वजन घटाने में सहायक-रसोईघर के मसाले, जड़ी-बूटियाँ और शाक

Advertisements



वजन कम करने के लिए खाने पर नियंत्रण रखने की सलाह हमें कोई भी दे-देेता है। लेकिन क्या आप जानते हैं हमारी रसोई में ही कुछ ऐसे मसाले, शाक और जड़ी-बूटी हैं जिनका नियमित उपयोग बढ़ते वजन को नियंत्रित करने में सहायक है। ये मसाले, शाक और जड़ी-बूटियाँ हैं-

 

 

1. दालचीनी- इसका उपयोग मसाले और दवा के रूप में प्राचीन काल से किया जाता है। इसकी सुगंध मोहक होती है और स्वाद हल्का मीठा होता है। भोजन के बाद मीठा मोटापे का कारण होता है। ओटमील या होलग्रेन टोस्ट पर दालचीनी का चूर्ण छिड़क कर खाने से मीठा खाने की तृष्णा में कमी आती है। एक चैथाई चम्मच दालचीनी के नियमित सेवन से ब्लड शुगर और कोलेस्ट्राल कम होता है।

 

 

2. काली मिर्च- काली मिर्च हमारे भोजन में नियमित रूप से प्रयोग की जाती है। ये स्वभाव से गरम तासीर वाले मसालों में गिनी जाती है। इसका स्वाद तीखा होता है तथा यह अनेक रोगों का नाश करती है। यह वजन कम करने में भी सहायक है। इसमें ऐसे तत्व हैं जो वसा की परत तोड़ते हैं। यह वसा पेशाब और पसीने के रूप में शरीर से बाहर निकल जाती है।


3. हल्दी- इसे मसालों की रानी के रूप में भी जाना जाता है। यह अदरक की तरह की जड़ी होती है। यह आयुर्वेदिक औषधि है। यह एंटी आॅक्सीडेन्ट होती है। यह वजन घटाने में भी मददगार होती है। इसमें उपस्थित तत्व पित्त बढ़ाते हैं जो शरीर में उपस्थित वसा को कम करते हंै। वजन कम करने के लिए हमें नियमित रूप से हल्दी का सेवन करना चाहिए।


4. अदरक- अदरक एक औषधीय जड़ी है। जिसका प्रयोग मसाले के रूप में किया जाता है। इसे ताजा और सूखा दोनों तरह से प्रयोग किया जा सकता है। इसमें अनेक पोषक तत्व भी मिलते हैं। इसके प्रयोग से शरीर की अतिरिक्त वसा कम होती है। अदरक वाली ग्रीन टी पीने से वजन बढ़ने पर नियंत्रण किया जा सकता है। इसके प्रयोग से भोजन फैट में नहीं बदलता है।

 

 

5. लहसुन- इसे तामसिक भोज्य पदार्थ माना जाता है। बहुत से लोग इसकी तीव्र गंध के कारण इसका प्रयोग नहीं करते हैं। लेकिन यह बहुत से रोगों को नियंत्रित करता है। इसमें रोग प्रतिरोधक क्षमता होती है। यह रक्त संचार को नियंत्रित करता है और शरीर के हानिकारक तत्वों को बाहर निकालता है।


6. सलाद- कुछ लोग भोजन करते समय पूरी तरह से पेट भर लेते हैं। अगर आप भी ऐसा करते हैं तो अपने भोजन की शुरूआत सलाद से करें। सलाद में विटामिन सी और ई के अतिरिक्त फाॅलिक एसिड, लाइकोवीन आदि तत्व होते हैं जो वजन घटाने में सहायक होते हैं और प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाते हैं।


7. ग्रीन टी- ग्रीन टी उन सभी लोगों के लिए वरदान है जो वजन कम करने के इच्छुक हैं। इसमें कैटशिंस नाम का एंटी आक्सीडेंट होता है जो वसा को पिघलाता है और भोजन को ऊर्जा में बदलने में सहायता करता है।


8. बींस- बींस वजन कम करने का एक अच्छा साधन है। इसमें ऐसे तत्व होते हैं जो डाइजेस्टिव हार्मोन को बढाने में मदद करते हैं। बींस को हाई फाइबर डाइट माना जाता है।

 

 

आपने देखा हमारी रसोई में ऐसे अनेक मसाले, जड़ी और शाक है जिनका नियमित प्रयोग कर हम बढ़ते वजन को नियंत्रित कर सकते हैं।