बालों के स्वास्थ्य के लिए 6 सर्वश्रेष्ठ तेल



लंबे, काले, घने बाल हर किसी को पसंद हैं। ये इंसान की सुंदरता को चार चाँद लगा देते हैं। लेकिन समय के अभाव और बदलते मौसम में सही देखभाल न मिलने के कारण यह बेजान दो मुँहे और रूखे हो जाते हैं और यदि इनकी सही देखभाल न की जाए तो टूटने और झड़ने लगते हैं। जिस प्रकार मानव शरीर को पोषण के लिए पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है उसी प्रकार बालों को भी पोषण की आवश्यकता होती है। बालों की देखभाल के लिए सबसे आवश्यक है किसी हेयर आॅयल (तेल) से अच्छी तरह सिर की मालिश। आज हम ऐसे 6 तेलों के विषय में चर्चा करने जा रहे हैं। जो हमारे बालों के लिए उपयोगी है।

नारियल का तेल (कोकोनट आॅयल)

नारियल के तेल में अत्यधिक मात्रा में विटामिन और न्यूट्रीएंटस मिलते हैं जो हमारे बालों को पोषण देते हैं। इससे बाल बढते हैं और घने होने के साथ स्वस्थ भी होते हैं। नारियल का तेल विश्व का सबसे अच्छा प्राकृतिक कंडिशनर है। इसकी मालिश से रक्त संचार बढता है और इससे तनाव तथा सिरदर्द से राहत मिलती है।

बादाम का तेल

बादाम के तेल में वह सभी गुण और पोषक तत्व होते हैं जो बादाम में मिलते हैं। यदि किसी को बालों से संबंधित कोई समस्या है अर्थात बाल झड़ रहे हों या टूट रहे हों उस स्थिति में बादाम का तेल औषधि का कार्य करता है क्योंकि इसमें बालों को पोषण देने वाले सभी पोषक तत्व विद्यमान है। इसमें विटामिन ई होता है जो पोषण देने के साथ ही बालों की बढोतरी में भी सहायक है। इसके प्रयोग से बाल चमकीले होने के साथ-साथ रेशमी भी होते हैं।

जैतून का तेल

जैतून के तेल को हम आॅलिव आयल के नाम से भी जानते हैं। यह तेल जैतून के फल से बनता है। यह रूखे और सूखे बालों पर सकारात्मक प्रभाव डालता है। इसकी मालिश से बाल झड़ना कम हो जाते हैं और नए बाल निकलने लगते हैं। यह बालों की सबसे बड़ी समस्या रूसी से भी छुटकारा दिलाने में सहायक सिद्ध होता है। इसमें ओलयूरोपिन नामक तत्व होता है जिससे बालों की बढ़त तीव्रता से होती है। इतने गुण होने के साथ ही इसके प्रयोग में एक सावधानी रखने की आवश्यकता होती है कि इसका प्रयोग ग्रीष्म ऋतु में कम करें।

एवाकाडो आॅयल

एवाकाडो आॅयल में मौजूद विटामिन खनिज तथा एंटीआॅक्सीडेन्ट बालों को टूटने से बचाते हैं और बालों की चमक बरकरार रखते हैं। साथ ही उलझे बालों को सुलझाने में सहायता करते हैं। यह प्रदूषण से बालों की रक्षा करता है। तैराकी करने वाले लोग क्लोरिन से होने वाले नुकसान से बालों को बचाने के लिए इसकी पतली परत का प्रयोग कर सकते हैं। यह रूसी से भी मुक्ति दिलाता है।

रेंडी का तेल (कैस्टर आॅयल)

कैस्टर आॅयल बालों के लिए स्वास्थ्यवर्धक तेल है इसे हिंदी में अरंडी का तेल भी कहते हैं। इसमें ओमेगा-6 के साथ रिसिनो लेइक एसिड होता है जो सिर की त्वचा में रक्त संचार बढाकर बालों को मजबूती प्रदान करता है। यह बालों को पोषण देता है।

चंदन का तेल (सैंडलवुड आॅयल)

इस तेल में एंटी-इंफ्लेमेंट्री तत्व होते हैं जो बालों की शुष्कता दूर करते हैं तथा सिर की त्वचा को किसी भी तरह के संक्रमण से बचाते हैं। ध्यान रखें थोड़ी मात्रा में ही बालों पर लगाना चाहिए।

यह कुछ ऐसे तेल हैं जो प्राकृतिक होने के साथ-साथ बालों की हर समस्या का समाधान करने में भी सक्षम हैं।