फाल्गुनी नायर: कॉस्मेटिक्स बेचकर भारत की सबसे अमीर सेल्फ मेड अरबपति – Her Beauty

फाल्गुनी नायर: कॉस्मेटिक्स बेचकर भारत की सबसे अमीर सेल्फ मेड अरबपति

Advertisements

देशभर में ब्यूटी प्रोडक्ट्स में नायका (Nykaa) का बोलबाला चलता है। इसके द्वारा बेचे जानेवाली कॉस्मेटिक्स को काफ़ी पसंद किया जाया है। इस प्रसिद्ध रिटेल चेन की संस्थापक फाल्गुनी नायर का भाग्य 10 नवंबर को कंपनी के सार्वजनिक होने पर शेयरों में जोरदार वृद्धि के कारण बढ़कर 6.5 बिलियन डॉलर हो गया है।

आईपीओ में लिस्ट होते ही आया उछाल

FSN ई-कॉमर्स वेंचर्स लिमिटेड के शेयर – कॉस्मेटिक रिटेल चेन Nykaa के संचालक, 10 नवंबर को सार्वजनिक होने पर 89% तक बढ़ गए। FSN ई-कॉमर्स वेंचर्स सार्वजनिक रूप से जाने वाली भारत की पहली महिला-नेतृत्व वाली स्टार्टअप ($ 1 बिलियन से अधिक की स्टार्टअप) है। कंपनी ने इस आईपीओ में 53.5 अरब रुपये (722 मिलियन डॉलर) जुटाए।

संस्थापक फाल्गुनी नायर के पास Nykaa का लगभग आधा हिस्सा है, जिसकी कीमत अब लगभग 6.5 बिलियन डॉलर है। ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स के अनुसार, यह उन्हें भारत की सबसे अमीर स्व-निर्मित महिला अरबपति बनाती है। इस कारनामे ने एक इतिहास रच दिया है। एक महिला को ऐसी उपलब्धि हासिल करते देखना काफ़ी सुखदायक है।

मजूमदार शॉ को पछाड़ हासिल की उपलब्धि

नायका की फाउंडर फाल्गुनी नायर की इस उपलब्धि पर बॉयोकॉन की एग्जेक्यूटिव चेयरपर्सन किरण मजूमदार शॉ ने उन्हें बधाई दी है। बता दें कि नायर ने शॉ को पछाड़ कर ही यह उपलब्धि हासिल की है। शॉ ने बधाई भरा ट्वीट किया है। बायोकॉन की एग्जेक्यूटिव चेयरपर्सन शॉ ने लिखा, “नायका की फाउंडर फाल्गुनी नायर देश की सबसे अमीर सेल्फ-मेड महिला अरबपति बन गई हैं- शानदार शुरुआत, बधाई हो फाल्गुनी नायर, आपने हम महिला एंटरप्रेन्योर्स का सम्मान बढ़ाया है”।

Loading...

सन् 2012 में की Nykaa की शुरुआत

भारत के शीर्ष निवेश बैंक की पूर्व प्रमुख नायर ने 50 साल की होने से कुछ महीने पहले 2012 में Nykaa की स्थापना की थी। उस समय, अधिकांश भारतीय महिलाओं ने मेकअप और देखभाल उत्पाद खरीदने में रुचि दिखाई। मिस नायर ने 2,500 से अधिक कॉस्मेटिक ब्रांडों के साथ अपने स्टार्टअप को भारत के अग्रणी ब्यूटी रिटेलर के रूप में विकसित किया है। बॉलीवुड हस्तियों और अभिनेताओं और उत्पादों का अनुभव करने के लिए 70 से अधिक भौतिक स्टोरों की शुरुआत के कारण नायर ने ऑनलाइन बिक्री को बढ़ावा दिया है। उनकी कोशिश थी की उनके प्रोडक्ट देश के सभी लोगों तक पहुंचे।

Nykaa जिन वस्तुओं को बेचता है उसमें शामिल हैं: एक्सफोलिएंट्स, त्वचा देखभाल सौंदर्य प्रसाधन, सैकड़ों लिपस्टिक, और नेल पॉलिश जो स्थानीय लोगों की त्वचा के रंग से मेल खाते है। आईपीओ फाइलिंग के अनुसार, मार्च में समाप्त होने वाले वित्तीय वर्ष में खुदरा श्रृंखला का राजस्व 35% बढ़कर 330 मिलियन डॉलर हो गया। Nykaa उपभोक्ता इंटरनेट बाज़ार में उन कुछ स्टार्ट-अप्स में से एक है जो आईपीओ के मामले में लाभदायक है।

पहली बार किसी महिला की यूनीकॉर्न भारतीय मार्केट में लिस्ट

नायका की पैरेंट कंपनी एफएसएन ई-कॉमर्स वेंचर्स किसी महिला द्वारा शुरू की गई देश में पहली ऐसी यूनीकॉर्न है जो मार्केट में लिस्ट हुई है। यूनीकॉर्न का मतलब ऐसे स्टार्टअप से है जिसका वैल्यूएशन 100 करोड़ डॉलर (74.37 हजार करोड़ रुपये) के लेवल को छू दे। आईपीओ के जरिए नायका ने 5352 करोड़ रुपये जुटाए हैं। नायर ने नायका की शुरुआत तब की थी जब उनकी उम्र 50 वर्ष होने में बस कुछ ही महीने बचे थे।

Nykaa ने बदला मेकअप ट्रेंड

Nykaa के जन्म ने भारतीयों की सुंदरता को देखने के तरीके को बदल दिया है, केवल लिपस्टिक और आईलाइनर पहनने से लेकर परिष्कृत देखभाल और सुंदरता पर अधिक ध्यान देने तक। ब्लूमबर्ग के अनुसार, भारत में सौंदर्य बाज़ार अभी भी काफ़ी युवा है, अब तक 1.3 अरब लोगों के इस देश में उपयोगकर्ताओं ने मेकअप और सौंदर्य देखभाल उत्पादों को खरीदने के लिए अपने वॉलेट को खोलना शुरू कर दिया है।

नायर के पास दो फैमिली ट्रस्ट और सात अन्य संगठनों के माध्यम से कॉस्मेटिक्स रिटेल चेन के शेयर हैं। बेटी और बेटे ने प्रतिष्ठित आइवी लीग विश्वविद्यालय से स्नातक की उपाधि प्राप्त की, जिसमें नायर नायका व्यावसायिक इकाइयां चला रही थे।

Advertisements